Romantic Shayari, Dosti Shayari, Friends Shayari,

इस हसीन पलों को याद को तुम सदा याद रखना अगर याद मेरी आए मिलने की दुआ करना

जब दोस्ती की दास्तां वक्त सुनाएगा हमें भी कोई इंसान याद आएगा जब भूल जाऊंगा जिंदगी के गमों को आपके साथ गुजरा जमाना याद आएगा

हर रात अगर चांदनी होती हर मौसम में अगर तेरी बात होती तुझसे मैं अपने दिल की बात कह देता अगर तुम आ फिल्में मेरे साथ होती

सूरज की किरणों जब धरती पर पड़ती है तो हरियाली छा जाती है आप मेरे नजरों के सामने से गुजरते हैं तो मेरे जो हर चेहरे पर रौनक आ जाती हैं

कोई कहता है दोस्ती नशा बन जाती है

कोई कहता है दोस्ती सजा बन जाती है

पर दोस्ती करो सच्चे दिल से तो दोस्ती

जीने की वजह बन जाती है

कैसे जिया तुम बिन सदियों से लंबी है

रातें सदियों से लंबे हुए दिन आ जाओ

लौट कर तुम यह दिल कह रहा है

जब भी हमारी मुलाकात हुई नजरें झुकी झुकी रहे

जरा अपनी नजरें उठाइए तो नजरों से नजरें मिली

जिंदगी में आकर धोखा मत देना

कभी आंसुओं को तोहफा मत देना

दिल से याद करके रोए कभी

ऐसा कोई भी मौका मत देना

फिजा में झलकती शाम हो तुम

प्यार में झलकता जाम हो तुम

तुम्हें दिल में छुपा कर फिरते हैं

यह दोस्त मेरी जिंदगी का दूसरा नाम हो तुम

याद करते हैं जब हम आपको यादों से

हमारा दिल भर जाता है कभी हमेशा ही बात करते थे

आपसे अब बात करने को हमारा मन तरस जाता है

चाहतों की धूप में कैसी है

दवा तुम दर्द भी देते हो तो लगता है दवा

खामोश थे हम तो मगरू समझ लिया चुप है

हम तो मजबूर समझ लिए यही आपकी गलती है

कि इतने करीब थे फिर भी आपन आपने दूर समझ लिया समझ लिया

Leave a Comment